Friday, September 21, 2012

उम्र

बात उम्र की ना करो

जवानी अभी सयानी है

चर्चे सरे आम किया ना करो

हाल ये मज्मुं वयाँ किया ना करो

अभी तो ये लड्क्प्पन की जवानी है

जवानी अभी सयानी है

नागवारा है जिक्र उम्र का

यौवन पड़ाव अभी बाकी है

बात उम्र की ना करो

जवानी अभी सयानी है

1 comment:

  1. jawani k saath saath wakayee kavita bhi sayani he....

    achee rachna..par adhuri si lagti he....kuchh shabd or hote to ras or bhav pure pure lagte...

    fir bhi badhayee
    Ehsaas

    ReplyDelete