Monday, July 9, 2012

पल

कुछ पल तनहाइयों में गुजर गए

कुछ पल प्यार समझने को गुजर गए

जो पल बचे वो सिकवा शिकायत में गुजर गए

पर आंसू बहाने को

खुद को एक पल भी ना मिला

तलाशते रहे जिस पल को

वो पल कभी ना मिला

No comments:

Post a Comment