Monday, March 5, 2012

बदली दुनिया

पल में दुनिया सारी बदल गयी

वो मासूमियत वो बचपन

जाने कहा खो गयी

लहर दर्द की जो उठी

संग अपने खुशियाँ सारी बहा ले गयी

छुट गया लड़क्पन कही

अब तो वो याद भी नहीं

पल में दुनिया सारी बदल गयी

No comments:

Post a Comment