Friday, December 9, 2011

एक बार

एक बार जो कह देती दिल की बात

फूल बिछा देता कदमों में

रोशन सितारों से राहें बना देता

थाम लेती एक पल को भी जो तू मेरा हाथ

मांग में तेरी सिंदूर सजा देता

चाँद को तेरा गुलाम बना देता

No comments:

Post a Comment