Friday, September 23, 2011

खामोश आँखे

खामोश आँखे ढूंड रही साँसे

साज मिले सुर से

कह रही साँसे

टूटे दिल को मिले प्यार भरी राहें

कह रही साँसे

बेकरार दिल तलाश रहा बाहें

खामोश आँखे ढूंड रही साँसे

No comments:

Post a Comment