Friday, December 10, 2010

अलख

सपने दिखा दिखा

नींदे आपने चुरा ली

अब सोये कैसे

प्यार की अलख आप ने जगा दी

No comments:

Post a Comment