Sunday, November 29, 2009

अहमियत

अहमियत होती है हर छोटी छोटी बातों की

कब कौन सी बात महत्वपूर्ण हो जाय

यकीन विश्वास में बदल जाय

ये कोई नहीं जानता

नाज करो मगरूर ना बनो

इंसा हो इंसा ही रहो खुदा ना बनो

ये सबक सदा याद रखो

No comments:

Post a Comment